हां!यही है किसान की आय वृद्धि का राजमार्ग!!
आज दिल्ली में, कांस्टीट्यूशन क्लब में एक छोटा लेकिन भव्य कार्यक्रम था।फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी की राष्ट्रीय फेडरेशन का उद्घाटन था।भारतीय किसान संघ के प्रयास से यह फेडरेशन बनी है।
उसमें मुख्य वक्ता के नाते से केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर आए थे। नाबार्ड के चेयरमैन भी थे। जब मेरी कार्यक्रम शुरू होने से पहले चर्चा हुई तो कुमार स्वामी जी जो किसान संघ के हैं, व एफपीओ का ही काम देखते हैं, ने बताया “तेलंगाना में हम लोगों ने अनेक एफपीओ शुरू किए हैं।फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी। जिससे किसान इकट्ठे होकर फसल बेच सके, बीज खाद खरीद सके। यही नहीं अपने उत्पादन में मूल्य संवर्धन कर अपनी आय को तेजी से बढ़ा सकें।”
सरकार ने भी 10000 एफपीओ बने, ऐसा बड़ा लक्ष्य रखा है। सरकारें तो सरक सरक कर ही चलती हैं,लेकिन अगर अपने किसान तेजी से यह मार्ग अपनाते हैं तो उनकी आय में दोगुनी वृद्धि होने की पूरी संभावना है।
मैंने कहा “साल..साल भर आंदोलन करके, अपने को, जनता को और सरकार को दुखी करके रखने से तो कहीं अच्छा है किसान ऐसे रचनात्मक अभियान चलाएं।”
भारतीय मजदूर संघ के सुरेंद्रन जी, किसान संघ के दिनेश कुलकर्णी जी, मोहिनी मिश्रा जी भी वहां उपस्थित थे। उसी कार्यक्रम के कुछ नीचे फोटो भी दिए हैं