Digital India Conclave में बोलते मोदी जी, नीति आयोग उपाध्यक्ष डा:राजीव कुमार, अरुण ओझा जी के साथ स्वदेशी कार्यालय में!
आज जब मै दुर्ग जा रहा था,तो साथ ही बैठे सज्जन ने यह जानकर की में स्वदेशी(संघ) वाला हूँ…व्यंग्य किया “अरे!4 साल हो गए आप लोगों को आये..क्या भारत पहुँच गया चाँद पर?”
मैने उन्हें कहा “चाँद पर तो हमें पहुँचाना भी नहीं है भारत को, इसे धरती पर ही रखना है… पर सुनो..!”
मैने थैले से कल का Economic Times निकाल, उसे दिखाते हुए कहा पढ़ो,जरा…ये कोई स्वदेशी अखबार नहीं है..! क्या क्या था उसमें..
*फ्रांस(2.7ट्रिलियन डॉलर) को पीछे छोड़ भारत 2.9के साथ दुनिया की 6टी बड़ी अर्थव्यवस्था हो गया है.. इंग्लैंड भी पीछे होने ही वाला है!”
*इस जून मास में भारत में कारों की बिक्री में 37% थ्री व्हीलर में 14%व दोपहया वाहनों में 18%की रिकार्ड बिक्री हुई है.. यानि सामान्यजन की जेब में पैसा है और वह खरीद रहा है!
*मोबाइल अब 100%भारत में बनने लगे हैं
*भारत के 5 सबसे बड़ी कंपनियो में 4 स्वदेशी हैं
1.Tata की TCS 7.67लाख करोड़ रू
2.रिलायंस की RIL 6.69 लाख रु
3.HDFC बैंक 5.65 लाख करोड़ रू
4.हिन्दुस्तान यूनिलीवर 3.65 लाख करोड़ रू(विदेशी)
5. ITC 3.32 लाख करोड़ रु
*अकेले TCS में 4 लाख 1867 लोगों को प्रत्यक्ष रोज़गार मिल रहा है,अप्रत्यक्ष अलग
*मौसम विभाग के अनुसार इस वर्ष मानसून अच्छा रहेगा.फसलें रिकार्ड स्तर की होंगी।
फसलों के समर्थन मूल्य में भारी वृद्धि घोषित हो ही गयी है..
इससे किसान की जेब भी सबसे अधिक भर जायेगी…किसान खुशहाल तो देश खुशहाल!…
मैने आगे कहा “GST भी स्थिर हो गया है अब इसमें कोई शक नहीं की भारत की विकास दर(GDP) 8%हो जायेगी! दुनिया में सर्वाधिक…
खैर!वे सज्जन कुछ ढीले हुए तो सोचा आज यही चिट्ठी में लिखता हूँ…अभी दुर्ग आने में वेसे भी समय था…