Image may contain: 3 people, people sitting
Image may contain: one or more people, text that says "दत्तोंपत ठेंगडी जन्मशताब्दी कार्यक्रम स्वदेशी जागरण मंच के संस्थापक श्रद्धेय दत्तोपंत ठेंगड़ी का जन्मशताब्दी वर्ष- 1920-2020 10 नवंबर 2019 नागपूर से कार्यक्रम प्रारभ, घर-घर पहुचा ठेंगड़ी संदेश| विकास की अवधारणा, राष्ट्र की अवधारणा विषय| 5 हजार से अधिक स्थानों पर कार्यक्रम, लाखों की सहभागिता सामान्य कार्यकर्ता से सरसंघचालक, अर्थशास्त्री, वाइस चासलर, सांसद, संत, मंत्री भी वक्ता и"
Image may contain: one or more people, text that says "77.1% ြ हस्ताक्षर अभियान (डिजिटल लाख 87 हजार हस्ताक्षर 739 जिलों में से 715 जिलों में 48,000 000 वालंटियर रजिस्टर हुए सभी 28 जिलों व केंद्र शासित राज्यों में"
Image may contain: 2 people, text that says "स्वदेशी थिंक टैंक .प्रो. भगवती प्रकाश, प्रो. विजय कौल का नेतृत्व 7 कार्यकर्ताओं की कोर टीम 40 अर्थशास्त्रियों का समूह .डॉ. राजीव कुमार, प्रो. वी.के. मल्होत्रा, नाबार्ड के चिन्ताला जी व अन्य का मार्गदर्शन"
सम्मेलन में उपस्थित अधिकारीगण व कार्यवृत्त की पीपीटी
3 दिन पूर्व दिल्ली में स्वदेशी जागरण मंच की दो दिवसीय अखिल भारतीय बैठक संपन्न हुई।कोरोना महामारी, शुरू होने के बाद यह पहली प्रत्यक्ष बैठक थी। देशभर के स्वदेशी जागरण मंच के कार्यक्रमों की जानकारी आई। कैसे करोना काल में स्वदेशी के कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य रक्षा अभियान चलाया, सेवा कार्य किए,अर्थव्यवस्था और रोजगार को बचाने के लिए स्वदेशी स्वावलंबन अभियान चलाया।
इन सब बातों का लेखा-जोखा वहां पर आया। स्वदेशी के कार्यकर्ताओं ने वास्तव में इस कठिन काल को अवसर के रूप में लिया और संपूर्ण देश में स्वदेशी जागरण मंच का डिजिटल नेटवर्क भी खड़ा कर लिया। आज सुदूर क्षेत्रों तक स्वदेशी जागरण मंच की पहुंच बनी है। रोजगार सृजकों के सम्मान कार्यक्रम से देशभर में उत्साह आया है।
इस बैठक में कृषि कानून व ऑनलाइन रिटेल की कठिनाइयों व समाधान पर प्रस्ताव पारित हुए। आत्मनिर्भर भारत का दृष्टिकोण क्या हो, स्वदेशी दृष्टिकोण से कैसे सच्चे मायने में देश आत्मनिर्भर बन सकता है,इस पर चर्चा हुई और सभी जिलों को स्वावलंबी जिला बनाने का संकल्प लेकर बैठक संपन्न हुई।
बैठक के पश्चात हुए डिजिटल राष्ट्रीय सम्मेलन में 16727 लोगों ने अपने आप को पंजीकृत किया। प्रमुख मार्गदर्शन डॉक्टर बजरंग लाल जी गुप्ता ने किया तो अध्यक्षता जोहो कॉर्प के श्रीधर वैंबू ने की व बीकानेर भुजिया के श्री रमेश जी मुख्य अतिथि रहे।
मेरा जिला स्वावलंबी जिला बने, इसकी योजना व प्रेरणा लेकर कार्यकर्ता अपने अपने स्थान को गए~सतीश कुमार