कुरुक्षेत्र में स्व:जा:मंच के विचार वर्ग के समापन पर बोलते हुए राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल जी,व श्रोतागण कार्यकर्ता,
संघ का पथ संचलन
आज कुरूक्षेत्र में स्वदेशी जागरण मंच का विचार वर्ग सम्पन्न हुआ!
आज से ही उत्तरप्रदेश के शाहजहाँपुर में ऐसा ही वर्ग शुरू हुआ है!
अगले दो मास में ऐसे ही तीन वर्ग और होंगे…सब तरफ़ एक ही विषय…कार्यकर्ता का प्रशिक्षण…कार्यकर्ता का प्रबोधन…
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जो इस प्रकार के प्रशिक्षण देने वाला शायद देश ही नहीं दुनिया का सबसे बड़ा संगठन है, इन्हीं 2-3 महीनों में सबसे अधिक गर्मी में अपने हज़ारों कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण करता है…
इसी प्रकार भारतीय किसान संघ,मज़दूर संघ,विद्यार्थी परिषद, विद्या भारती, सेवा भारती जैसे लगभग 40 संगठन अपने अपने कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण करने में लगे हैं…
आख़िर इतना बड़ा प्रयत्न किसलिए? इतनी तपस्या किसलिए? अपना पैसा,समय लगाकर हज़ारों कार्यकर्ता आते हैं,किसलिए?…
एक ही विचार..कैसे इस देश को आगे बढ़ाएँ, कैसे समृद्धि,रोजगार से युक्त देश बनाएँ ..?
आख़िर संघ की प्रार्थना में प्रतिदिन हर स्वयंसेवक बोलता ही है..परंवैभवनेतुमेतत् स्वराष्ट्रम्…समर्था भवत्वा शिषाते भृषम