गुजरात में कश्मीरी लाल जी का पांच दिवसीय प्रवास जारी है! अहमदाबाद,सुरेंद्रनगर व मोरवी में अच्छी बैठकें व कार्रयक्रम हो रहे हैं!
‘ट्रेन-18’ इस नाम से Integral कोच फैक्ट्री चेन्नई ने नई ट्रेन की तैयारी कर ली है! पिछले दिनों में उसका पहला ट्रायल सफल रहा है!
यह ट्रेन पूरी तरह से स्वदेश में ही डिजाइन व निर्माण हुई है!इसकी स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा तक की होगी! जिसके कारण से प्रमुख नगरों में बहुत अधिक सुविधा होगी! यह इंटरसिटी ट्रेन होगी व बैठने की ही व्यवस्था होगी!
यह कुछ-कुछ मेट्रो जैसे डिजाइन पर है!किंतु पूरी तरह से स्वदेशी है और अंतरराष्ट्रीय स्तर से की है!
रेलवे के इंजीनियरों, प्रबन्धकों और देश की जनता को इस स्वदेशी उपलब्धि की बहुत-बहुत बधाई!
इतना ही नहीं 2020 में ऐसी ही स्लीपर कोच ट्रेन की तैयारी भी अच्छी प्रगति पर है!
वैसे भी भारतीय रेलवे यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी रेल व्यवस्था है!हमें गर्व है कि इसके 15लाख कर्मचारियों के साथ यह इसरो की तरह ही सब तरह से स्वदेशी व सफल व्यवस्था है…जय भारत!
एक बधाई और भी!कि आज 3 महीने बाद रुपैया मजबूत होकर डॉलर के मुकाबले₹69.70 पैसे पर दोपहर 12:00 बजे आ गया था! ऐसा अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के मूल्य में लगातार गिरावट के कारण से हुआ है! कीमतों में वृद्धि के कारण ही रुपया गिरा था और कीमतें कम होने से रुपया वापस मजबूत हो गया है!