भारत की वैक्सीन क्षमता से विश्व चकित! जय हो!
स्वास्थ्य मंत्रालय की आज शाम सूचना आई है कि भारत ने अपने लोगों को 75 करोड़ वैक्सीन लगा दी है। यही नहीं पिछले 13 दिनों में ही 10 करोड़ वैक्सीन लगाई गई है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ सहित विश्व के अनेक देशों की सरकारों और संस्थानों ने भारत के इतनी तेज वैक्सीन उत्पादन करने और लगाने की क्षमता पर सुखद आश्चर्य प्रकट किया है।वैसे भी भारत किसी भी प्रकार की उत्पादित वैक्सीन(कोरोना के अलावा) के विषय में भी लगभग 62% उत्पादन कर विश्व का अग्रणी देश है।
भारत को वैसे भी फार्मेसी ऑफ द वर्ल्ड कहा जाता है। जेनेरिक दवाइयां अच्छी गुणवत्ता वाली और सस्ती, विश्व में सर्वाधिक भारत ही उत्पादित करता है। निश्चित रूप से संपूर्ण विश्व का ध्यान रखने की नैतिक जिम्मेवारी हमारी ही है।क्योंकि “वसुधैव कुटुंबकम” यह हम ही कहते हैं।
पश्चिम की सोच कहती है “विश्व एक बाजार है।”
भारत की सोच कहती है “विश्व एक परिवार है।”
क्यों अपनी इन स्वास्थ्य क्षमताओं पर गर्व है न? है तो नीचे लिखें ‘जय स्वदेशी-जय भारत’~सतीश
नीचे:बिहार प्रान्त के विचार वर्ग में श्री अरुण ओझा जी,कश्मीरी लाल जी व अन्नदा शंकर पाणिग्रही जी।उधर हरियाणा के मेवात में भारत के युवाओं की क्षमता व अर्थ एवं रोजगार सृजन के विषय में बोलते हुए