…यदि भारत को 100 टाटा मिल जाएं तो..?
आज मैं जब कुरुक्षेत्र से दिल्ली रेलगाड़ी में आ रहा था,तो सोचा समय है तो गूगल से समाचार देखे जाएं।आर्थिक समाचार पढ़ने की मेरी पुरानी रूची है। तभी मैंने देखे-पढे, दो अति सुखकारी समाचार।
पहला था टीसीएस यानी टाटा कंसलटेंसी सर्विस विश्व का आईटी क्षेत्र का क्रमांक दो का ब्रांड बन गया है व अमेरिकी कंपनी आईबीएम को क्रमांक 4 पर धकेल दिया है, 3 पर भी अपनी इंफोसिस आई है।
टीसीएस ने इस बार 25 अरब डॉलर की कमाई की है।उसका कुल वैल्यूएशन भी $1ट्रिलियन से अधिक हो गया है।
TCS,भारत की पहली सबसे बड़ी कंपनी है, जिसने 3:50 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार(नौकरियां) दिया है।
फिर दूसरा देखा तो टाटा ग्रुप के चेयरमैन चंद्रशेखरन मोदी जी के साथ बैठे थे,उन्हें धन्यवाद देने व चर्चा करने गए थे। क्योंकि आज ही एयर इंडिया पूरी तरह से टाटा ग्रुप में आ गई है।यानी भारत को एयर इंडिया से हो रहे भारी घाटे से बाहर निकालने की प्रक्रिया शुरू।
स्वामी विवेकानंद ने कहा था मुझे 100देशभक्त व योग्य युवक मिल जाएं तो मैं भारत का नक्शा बदल सकता हूँ।स्वदेशी की सोच है यदि भारत को 100 टाटा मिल जाएं तो भारत की आर्थिक समृद्धि के लक्ष्य 0% गरीबी रेखा, 100% रोजगार युक्त युवा व 10 ट्रिलियन डॉलर, सन2030 तक, का स्वप्न ही पूरा हो जाए।…जय स्वदेशी जय भारत!
नीचे:कल 26 जनवरी को कुरुक्षेत्र में विश्वविद्यालय में गणतंत्र दिवस मनाने के अवसर पर,कुलपति सोमनाथ जी,उनकी धर्मपत्नी व अन्य के साथ,