PRERAK PRASANG

HomePRERAK PRASANG

छत पर ऑर्नामेंटल पौधे उगाकर हर महीने 30,000 रुपये कमातीं हैं यह गृहिणी

जब भी बात खेती की होती है तो ज़्यादातर लोगों

शहरी जिंदगी को अलविदा कर सौ फीसदी जैविक जीवन शैली अपनाने वाले ये दम्पति हैं मिसाल

आज के आधुनिक युग में लोग आरामदायक और सुख-सुविधाओं भरी

छत्तीसगढ़ के 9वीं पास लड़के ने खुद के लिए डिजाइन की बाइक, कबाड़ से लगाया जुगाड़

कहते हैं हुनर और जुनून हो तो कामयाबी मिलने से

साल 2010 में हुई थी एक छोटी शुरुआत, आज 500 शहरों तक फैल चुका है 11 हजार करोड़ का साम्राज्य!

भारत में तीन सबसे बड़ी ई-कॉमर्स पोर्टल फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और

16 की उम्र में की थी शुरुआत, आज यह लड़की 20 से ज्यादा बैंकों के लिए कर रही है लोन की वसूली

वसूली शब्द का अर्थ होता है पैसे की वसूली। यह

पुलिस ऑफिसर ने नौकरी छोड़ शुरू की खेती, अब होती है 3.5 करोड़ की सालाना कमाई

कुछ नया सीखने की धुन या ललक हमें प्रचलित रास्तों

सीए की पढ़ाई छोड़ शुरू किया अनूठा स्टार्टअप, किसानों को दे रहे आमदनी दोगुनी करने की टिप्स

त्याग और तपस्या का दूसरा नाम है किसान। किसान जीवन

माता-पिता के साथ खेतों में काम करने वाले अली कैसे बन गए मणिपुर के पहले IAS ऑफिसर

सच ही कहा गया है कि अगर व्यक्ति के भीतर

By |2020-12-14T13:21:20+05:30December 14th, 2020|PRERAK PRASANG|0 Comments

शून्य से 50 करोड़ की कंपनी बना कर उन्होंने साबित कर दिखाया सफलता अभावों की मोहताज़ नहीं होती

हर कामयाब शख़्स ने कभी न कभी बुरा वक़्त तो

अपनी अनोखी तकनीक के साथ लौटे भारत, सिर्फ 20 एकड़ में करते हैं 500 टन सब्जियों का उत्पादन

भारतीय प्रतिभा दुनिया भर में हरेक क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा

Go to Top