Neemuch, farmer, champalal

भारत में कोरोना का तेज प्रसार देखते हुए पिछले कई महीनों से शादी-विवाह आदि के भव्य आयोजन पर प्रतिबंध लगे हुए हैं। लेकिन इस दौर में मध्य प्रदेश के एक किसान ने नेकी की मिसाल कायम की है।

मध्य प्रदेश के किसान चम्पालाल गुर्जर ने अपनी बेटी की शादी करने के लिए कड़ी मेहनत से कमाये हुए दो लाख रुपये कोविड-19 के गंभीर मरीजों के वास्ते दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन खरीदने के लिए नीमच जिला प्रशासन को दान दे दिए हैं।

चम्पालाल मध्य प्रदेश के नीमच जिले के जीरन तहसील के छोटे से गाँव ग्वाल देवियाँ के रहने वाले हैं। यह गांव नीमच जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर है। उन्होंने दो लाख रुपये नीमच जिला कलेक्टर मयंक अग्रवाल को चेक द्वारा सौंपे हैं और उनसे कहा कि इन रुपयों से दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीद लिए जायें, एवं एक जिला अस्पताल नीमच को और एक जीरन शासकीय अस्पताल को दिया जाए।

चम्पालाल ने सोमवार को ‘भाषा’ को बताया, “हर पिता की तरह मेरा भी सपना था कि मैं अपनी बेटी अनीता की शादी धूमधाम से करूं, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के चलते यह रविवार को संभव नहीं हो सका। ऐसे में शादी को यादगार बनाने के लिए मैंने यह निर्णय लिया, ताकि बेटी की शादी को यादगार बनाया जा सके।”

अनीता ने कहा, “पापा ने जो फैसला लिया, उससे मैं खुश हूं। मेरी शादी के खर्च के रुपयों से मरीजों की जिन्दगी बचेगी।” किसान चम्पालाल ने मानवता की जो मिसाल पेश की है, उसकी प्रशंसा चारों तरफ हो रही है।

नीमच कलेक्टर मयंक अग्रवाल ने चम्पालाल के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा, “यदि सबकी सोच ऐसी हो तो निश्चित ही बड़ी मदद हो सकती है।” उन्होंने आगे कहा, “चम्पालाल द्वारा दिए गए रुपयों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाए जा रहे हैं।”