Image may contain: 3 people, people sitting

कल स्वदेशी कार्यालय पर कुछ कार्यकर्ता रक्षा बंधन मनाने आये तो बायकाट चायनीज मास्क लगाए हुए थे

  • आज का ही समाचार है कि आईपीएल से विवो कंपनी के विज्ञापन की छुट्टी कर दी गई है। स्वदेशी जागरण मंच ने इसके विरुद्ध आगाह किया था।
  • 2 दिन पूर्व ही समाचार आया कि चीन व वियतनाम से आने वाले टेलीविजनों पर इंपोर्ट ड्यूटी 25% बढ़ा दी गई है। उससे पहले इलेक्ट्रॉनिक्स के सामान पर भी बढ़ाई गई थी।
  • आनंद महिंद्रा,सज्जन जिंदल सहित भारत के उद्योग पतियों के बड़े वर्ग ने चीन से होने वाले इंपोर्ट को खत्म करने की घोषणाएं की हैं।
  • कैट तो विधिवत रूप से संपूर्ण देश में चाइनीज बहिष्कार का आंदोलन चला ही रहा है। सामान्य समाज में भी अब यह ‘स्वदेशी स्वीकार चायनीज बहिष्कार’ का विचार पूरी तरह से जम गया है।
  • गलवान घाटी में भारत से पंगा लेकर चीन अब सोच में है, कि इसमें से वापस कैसे निकले? चार में से दो इलाकों (फिंगर 4 और फिंगर 5) के पहाड़ से तो पूरी तरह पीछे हट गया है। किंतु बाकी दो इलाकों से अभी पूरी तरह नहीं हटा है।
  • जो भी हो, भारत के लिए यह अच्छा ही हुआ की चाइनीज हमले से सोता देश जाग गया है। और चीन से होने वाले 65 अरब डालर के प्रति वर्ष के घाटे को भारत अब जीरो करने की और काफी तेजी से बढ़ रहा है।
  • इसके कारण से भारत की मैन्युफैक्चरिंग बढ़ने लगी है, और परिणाम स्वरूप रोजगार भी। चीन ने हमले में केवल अपने लोगों का रोजगार खोया है जो भारत से उसने खींचा हुआ था।
  • चीन को लद्दाख में माया मिली ना राम वाली हालत है।

    ~सतीश कुमार