Image may contain: 5 people, people sitting and indoor

स्वदेशी के दिल्ली कार्यालय से कश्मीरी लाल जी के साथ देश भर के कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत करते हुए।

सारी दुनिया अगले वर्ष मंदी की चपेट में आ जाएगी। लेकिन भारत और चीन नहीं आएगा। और उसमें भी भारत 1.9% की विकास दर से दुनिया में सबसे आगे बना रहेगा, यह बात कोई मैं स्वदेशी जागरण मंच का प्रचारक नहीं कह रहा बल्कि आईएमएफ की कल ही आई ‘वर्ल्ड इकोनामिक आउटलुक’ रिपोर्ट में आया है।
यह रिपोर्ट देखकर ध्यान में आता है कि जो बात हम स्वदेशी में लगातार कह रहे हैं, उसकी पुष्टि आईएमएफ ने भी की है।

इस रिपोर्ट में आया है कि यह छ: माही बहुत खराब निकलेगी। किंतु भारत 1.9% के साथ सबसे पहले और 1.2% के साथ चीन दूसरे नंबर पर मंदी से बाहर रहेगा।
दुनिया की कंपनियां भारत की तरफ रुख करेंगी और अगले ही छ:माही में भारत 4.2% और 2021-2022 के वर्ष में तो 7.4% के साथ दुनिया की सबसे तेज इकॉनमी बनकर उभरेगा।

चीन 1976 के बाद की स्थिति में पहुंच जाएगा। हां! अगले वर्ष तक वह भी थोड़ा उभरेगा पर फिर भी 5.4% तक ही। यानी भारत से 2% से अधिक वह पीछे रहेगा। भारत की गृह बचत, लघु उद्यमों की 80% तक की श्रृंखला और युवा शक्ति के कारण भारत का भविष्य उज्जवल है।

भारत अपनी विश्वसनीयता इस कोरोना युद्ध में सर्वाधिक प्राप्त कर चुका है। सारे संकेत भारत को दुनिया का नेतृत्व करने के मिल रहे हैं।…..जय-जय भारत!