Image may contain: 1 person

Image may contain: 1 person

संघ प्रमुख डा:मोहन भागवत, संघ प्रचारक रामलालजी (पूर्व भाजपा संगठनमंत्री)

3 दिन से चल रही विजयवाड़ा (आंध्रप्रदेश)में संघ के प्रांत प्रचारकों की बैठक में आज समापन से पूर्व घोषणा हुई की रामलाल जी,जो भाजपा के संगठन मंत्री रहे 12 वर्ष, उससे पूर्व उत्तरप्रदेश में क्षेत्र प्रचारक थे,अब फिर से संघ दायित्व पर अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख के नाते रहेंगे।
इसी प्रकार राकेश जी जैन जो अब तक राष्ट्रीय सेवाभारती के संगठन मंत्री थे, अब पर्यावरण मंच में सह संयोजक रहेंगे,गोपाल जी आर्य के साथ!
जिनका केंद्र अब दिल्ली से सूरत हो गया है।
और भी प्रांत व क्षेत्र स्तर के कई प्रचारकों की नियुक्तियां व परिवर्तन किए गए।
यही संघ संगठन की विशेषता है, प्रचारक परंपरा की विशेषता है।
कल जब प्रचारकों की सूची बन रही थी तो मैंने बैठक में बताया कि स्वदेशी में दो नए विभाग प्रचारक संघ से आए हैं, तो मेरे से रामलाल जी कहने लगे,अरे! केवल स्वदेशी में ही नहीं,बीजेपी में भी एक प्रचारक, संघ ने दिया है।
अब इतना सहज! एक संगठन से विशेषकर राजनीति क्षेत्र से वापस आना, यह केवल संघ में और प्रचारकों की परंपरा में ही संभव है। किसी का केंद्र देश में किसी स्थान पर कर देना,कोई संगठन बदल देना और सब कुछ बहुत ही सहज भाव से!
इसी त्याग व राष्ट्रनिष्ठा की परिपक्वता के कारण ही संघ आज देश के करोड़ों लोगों का विश्वास जीतकर देश और हिंदू समाज को विजयी व समर्थशाली बनाने में लगा है। हम गीत गाते ही हैं…
तन समर्पित मन समर्पित
और यह जीवन समर्पित!
चाहता हूं देश की माटी
तुझे कुछ और भी दूं….जय स्वदेशी-जय भारत!