शिक्षामंत्री किरण महेश्वरी,प्रो:भगवती शर्मा,कश्मीरीलाल जी व अन्य! चिन्तन करते कुलपति!
कल झीलों की नगरी उदयपुर में राजस्थान के कोई 50 विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने दिन भर बैठकर एक ही चिन्तन मनन किया कि कैसे राजस्थान की युवाशक्ति को पूर्ण रोजगार युक्त किया जाए?
नये क्षेत्र कौन से हैं,जहां से रोजगार निकल सकता है? कोई out of box ideas हैं क्या? विचारों का सुंदर आदान प्रदान! कृषि विश्वविद्यालय के VC उमाशंकरजी ने ग्रामीण क्षेत्र में किसान की आय बढाने के तरीके सुझाए तो दिल्ली से गए विश्वकर्मा Skill Development University VC प्रो: राजनेहरू ने earn while learn माडल व अन्य सफल माडल की जबर्दस्त प्रस्तुति रखी!
नई टैक्नोलौजी में भारत कैसे आगे बढ सकता है,तो राजस्थान में इस्रायली तरीकों से बागवानी आदि की गहन चर्चा भी आई!
कश्मीरी लाल जी ने Don’t be job seeker, Be job Providers पर युवकों को प्रेरित करने का आहवान भी किया तो सुभाषचन्द्र बोस के ही दूर के रिश्तेदार अमर बोस द्वारा कैसे दुनिया की sound systems की नामी कम्पनी BOSS खड़ी की गई,की प्रेरक कहानी भी बताई!
सरकार द्वारा राजस्थान में रोजगार सृजन में क्या-क्या किया जा रहा है,यह मंत्री ने बताया तो स्वदेशी जागरण मंच क्या क्या कर रहा है व समाज जागरण के पांच प्रमुख बिन्दुओं से कैसे रोजगार में तीव्र वृद्धि हो सकती है,यह मेरे द्वारा विषय रखा गया!
उच्चशिक्षा मंत्री श्रीमति किरण महेश्वरी ने इस चिन्तन दिवस का उदघाटन किया! आयोजन तो प्रो:भगवती प्रकाश शर्मा जो स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय सहसंयोजक भी हैं व संघ के क्षेत्र संघचालक भी!
स्वदेशी के राष्ट्रीय संगठक कश्मीरीलाल जी की प्रथम सत्र की अध्यक्षता थी तो क्षेत्र प्रचारक दुर्गादासजी का भी सान्निध्य सबको मिला!क्षेत्र कार्यवाह व शिक्षाविद हनुमानसिंह जी का उच्च स्तरीय समापन रहा!
एक बड़ा संकल्प व विश्विद्यालयों को केवल डिग्रीयां देने वाला संस्थान नहीं बल्कि पूरे राजस्थान की युवाशक्ति को रोजगारयुक्त करने व सुसंस्कारित करने का पवित्र स्थल बनाने का विचार लेकर सब विद्वान वापिस लौटे!