Image may contain: 3 people, people sitting, living room and indoor

कल प्रो:भगवती प्रकाश जी वीसी-गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय ग्रेटर नोएडा, कश्मीरी लाल जी के साथ आगामी योजनाओं पर चर्चा हुई

कल भारत सरकार ने एक बहुत ही साहसिक फैसला लेते हुए अपने पड़ोसी देशों हेतु एफडीआई नियमों में बदल किया है।
अब पड़ोसी देशों से कोई एफडीआई ऑटोमेटिक रूट से नहीं आएंगी।उन्हें सरकार से अनुमति लेनी होगी। जिसका सीधा सा अर्थ है चाइनीज कंपनियां, परिस्थिति का फायदा उठाकर, घाटे में चल रही भारतीय कंपनियों को खरीद नहीं पाएंगी।
यह बहुत बड़ी पहल है व चीन के भारत में प्रवेश करने के रास्ते पूरी तरह से अवरुद्ध कर दिए गए हैं। अभिनंदन!

इसी तरह मोदी सरकार के एक दूसरे फैसले में भी ई-कॉमर्स कंपनियों को जो 20 अप्रैल से छूट दी थी, वह भी वापस ले ली गई है।
इन दोनों विषयों पर स्वदेशी जागरण मंच व लघु उद्योग भारती प्रयासरत थे ही।
भारत जानता है कि उसके हित में क्या है, जनता के हित में क्या है! स्वदेशी प्रेमी ही नहीं,सारी भारतीय जनता को बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनाएं!
~ सतीश कुमार