Image may contain: 4 people, people standing and suit

Image may contain: stadium and crowd

ह्यूस्टन में अपार जनसमूह और मोदी तथा ट्रंप जनता का अभिवादन करते हुए

कल अमेरिका के ह्यूस्टन में जो हाउडी मोदी कार्यक्रम हुआ उसका एक संदेश तो यह साफ है कि भारत दुनिया की महाशक्ति बनने की इच्छा रखता है। तभी तो ह्यूस्टन में आज तक किसी भी राष्ट्र अध्यक्ष द्वारा किया गया अब तक का सबसे बड़ा मेगा शो था यह। कोई 50000 से ऊपर जनता…दो राष्ट्राध्यक्ष.. और ऊर्जा से भरपूर स्टेडियम। दुनिया के सभी 200 देश एक साथ इस को देख रहे थे।
किंतु दूसरी बात है, वह है मोदी का दम! सबको पता है अमेरिका ना केवल दुनिया की महाशक्ति है बल्कि वह अपने आर्थिक हितों को सबसे ऊपर रखने वाले लोग भी हैं। फिर डोनाल्ड ट्रंप इस विषय में माहिर ही है।

किंतु भारत में कहावत है “शिकार करो तो शेर का ही करो…” मोदी को स्पष्ट मालूम है कि अमेरिका और ट्रंप को काबू करना आसान नहीं। किंतु मोदी के स्वभाव में है की सबसे कठिन काम में हाथ डालना।
तभी तो दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति (सरदार पटेल की) बना देना, एटामिक शक्ति युक्त पाकिस्तान पर पहले सर्जिकल स्ट्राइक,तो फिर एयर स्ट्राइक कर देना! फिर 72 वर्षो से लंबित मामला 370का एक दिन में निबटा देना। चीन को भी संयम में रखना और भारत में भी प्रबल जन समर्थन जुटा लेना। तीन तलाक बिल पारित करना हो अथवा जीएसटी लागू करना।
कड़े और बड़े निर्णय करने वाले लोग ही वास्तव में दुनिया का नेतृत्व करने की क्षमता रखते हैं।
अमेरिका में यह प्रदर्शन इसमें सहायक होगा या नहीं अलग बात है, किंतु एक ऊंची छलांग लगाकर शेर का शिकार करने की कोशिश करना… निश्चित ही स्तुति योग्य है।
…जय हो