Image may contain: 2 people

इस एंप्लॉयमेंट कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अपने कश्मीरी लाल जी,भगवती प्रकाश जी,डॉ अश्विनी महाजन जी व अन्य

कल लखनऊ के फाइनेंस डिपार्टमैंट के ऑडिटोरियम में,लखनऊ विश्वविद्यालय के अध्यापकों द्वारा प्रो: मनोज अग्रवाल के नेतृत्व में,राज्य स्तरीय गोष्ठी का आयोजन हुआ।
इसमें VCडॉ भगवती प्रकाश जी,VC डॉ विनय पाठक जी,VCडॉ राजकुमार मित्तल जी,डा:अशवनी महाजन, कानपुर आईआईटी के प्रोफेसर समीर खांडेकर प्रोफेसर जयन्त कृष्णा,आई आई एम लखनऊ की डॉक्टर रितु आदि ने अपनी अपनी शोध पूर्ण बातचीत, प्रभावी ढंग से रखी।कुल 60 प्रोफेसर,शोध छात्र व अन्य विद्वान इसमें सहभागी हुए।
वहां जो विषय उभरे,उनमें से कुछ को सुनकर सब रोमांचित हुए… जैसे टूरिज्म यह भारत का बड़ा रोजगार देने वाला क्षेत्र है।
गत वर्ष एक करोड़ टूरिस्ट (विदेशी) भारत में आए। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट है की टूरिज्म में भारत 14% की ग्रोथ के साथ अगले 5 वर्षों में, विश्व में,चौथे नंबर पर आ रहा है ।
फिर भारत में रोजगार देने वाले पहले 10 बड़े क्षेत्रों में हमारे मंदिर-गुरुद्वारे, तीर्थ-त्योहार भी हैं।
इसी प्रकार से स्टार्टअप का जो भारतीय तरीका है, जिसमें पारिवारिक व सामूहिक भागीदारी के साथ नए उद्यम शुरू करते हैं, वह ज्यादा सफल हैं बजाय इसके कि स्टार्टअप के विदेशी तरीके से।
लखनऊ में इस प्रकार की स्वदेशी-रोजगार की कॉन्फ्रेंस,पहली बार हुई है।