Image may contain: 3 people, people smiling, people standing

सभा को संबोधित करते, राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल जी

स्वदेशी प्रेमी भाइयों एवं बहनों! सादर नमस्ते!
क्या आपको ज्ञात है कि अभी 3 दिन पूर्व हुई हरिद्वार में स्वदेशी जागरण मंच की राष्ट्रीय सभा में 4 प्रस्ताव पारित हुए हैं? यदि नहीं है तो मैं यहां अभी दे रहा हूं।1.जैविक, प्राकृतिक व परंपरागत कृषि हो भारत की। जिससे किसान वा ग्रामीण क्षेत्र की समृद्धि हो। विष मुक्त, रसायन मुक्त खेती व स्वस्थ अनाज खाकर देश के लोग बीमारियों से दूर रहें स्वस्थ रहें।
2.रोजगार इस समय भारत की प्रथम आवश्यकता है उसके लिए समाज व सरकार विभिन्न प्रकार के प्रयत्न करें। स्वरोजगार,नये व लघु उद्यमियों को प्रोत्साहन देना चाहिए। ‘डोंट बी जॉब सीकर भी जॉब प्रोवाइडर’ पर युवको में जनजागरण हो।
3. डाटा लोकलाइजेशन व डिजिटल नेशनलिज्म समय की आवश्यकता है। डाटा नया तेल है भविष्य की आर्थिक योजनाओं का आधार है। अतः वह अमेरिका, यूरोप या चीन नहीं जाना चाहिए। उसको भारत में ही संचित करना चाहिए और हम ही उपयोग करें।
4.विनिवेश के हम समर्थन में नहीं। यदि कहीं अनिवार्य भी हो तो भी यह स्ट्रैटेजिक ना होकर इक्विटी रूट से हो। यानी यदि घाटे वाली कंपनियों का विनिवेश करना ही हो तो वह इस तरीके से हो कि देश को लाभ हो, बहुराष्ट्रीय कंपनियों को नहीं।
आप भी इन प्रस्तावों का अध्ययन करें और उसका सब स्थानों पर प्रचार करें यह निवेदन है।
आपका ~सतीश कुमार