Indian couple gets married, divorced within minutes | India – Gulf News

आजकल अपनी वैवाहिक वर्षगांठ की उल्टी-सीधी तस्वीरें फेसबुक, व्हाट्सएप पर लगाना और उस पर कोई वाक्य लिख देना सामान्य रिवाज है।
कुछ दिन पूर्व एक जोड़े ने लिखा गीत “तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है…” संयोग से यह फिल्म, मेरी देखी हुई है। उसमे हीरोइन बड़ी परेशानी वा उदासी में यह गीत गाती है। अब इन्हें कौन समझाए की वर्षगांठ तो खुशी का मौका है…!

फिर कुछ लोग उस दिन के डांस करते हुए ऐसे चित्र लगा देते हैं जिन्हें देखते हुए हमें भी संकोच हो जाता है। अरे भाई हम अमेरिका यूरोप नहीं हैं। हमारी संस्कृति में यह एक पवित्र दिन है। इस दिन के हवन, पूजा करते हुए या सायंकाल में मित्रों, पड़ोसियों के साथ भंगड़ा, गिद्दा डालते हुए कोई फोटो आया जिसमें आप अच्छी भारतीय वेशभूषा में हों तो आनंद आएगा। आप आशीर्वाद या शुभकामनाएं लेने की अपील कर सकते हैं। जिस फोटो को देखकर आपके बच्चे, या मां बाप असहज हो जाए या शर्म महसूस करें ऐसी फोटो डालने का क्या उपयोग?

वैसे क्षमा करना भाई! हम तो ठहरे प्रचारक आदमी! ऐसे गृहस्थी के विषयों के जानकार तो नहीं,पर क्या करें? स्वदेशी के प्रचारक जो ठहरे! आपको जो उचित लगे करिए… सोचिए! और अपने कोई सुझाव हों, वर्षगांठ को बढ़िया ढंग से मनाने के, तो इसी वॉल पर लिखिए ताकि प्रवास के दौरान सब जगह बताया जा सके जिससे स्वदेशी की, भारतीयता की गरिमा भी बड़े व पारिवारिक आनंद भी आए…क्यों?
जय स्वदेशी जय भारत