मंच पर अपने अरूण ओझा,सरोजदा,धनपतरामजी व कश्मीरी लाल जी केसाथ प्रो: अन्नंत!कार्यकर्ता ध्यान से सुनते हुए! फिर अ:भा:प्रचार प्रमुख प्दीप जी संघर्षवाहिनी प्रमुख अन्नदा,व डा:अश्वनी महाजन बोलते हुए!
आज दिल्ली में स्वदेशी जागरण मंच की दो दिवसीय बैठक समप्न्न हुई!
सभी प्रांतो से आए कार्यकर्ताओं ने दो दिन एकजुट हो चिन्तन मनन किया…कैसे बचें नदियां और जल? ई-कामर्स में कैसे अपने छोटे दुकानदारों की रक्षा हो?
विश्व व्यापार संघ का भविष्य क्या है? चल रहे विश्व व्यापार युद्ध में भारत कैसे विजयी होकर उभरे?
ऐसे ही सब प्रश्नों व उनके उतर खोजने में देश भर के 55 कार्कर्ता लगे ही थे कि भारत के पूर्व chief statistician प्रो: T.R.S.Anant जो अब Delhi school of economics में प्रोफेसर हैं, ने कोई दोघंटे तक जीडीपी व उससे कैसे विकास रोजगार का आकलन होता है, पर बहुत ही सारगर्भित चर्चा की! कार्यकर्ताओं के प्रश्नों के उत्तर बड़ी विद्वता व समाधान कारक शैली से दिए!
18-19-20 जनवरी को होने वाली मदुरै की तैयारियों व अन्य संगठनात्मक विषयों की विस्तार से चर्चा होनी ही थी!
अति उत्साह,योग्य मार्गदर्शन व स्वदेशी कार्य वृद्धि का संकल्प ले सब लौट गए
..जय जय स्वदेशी..!