राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) से जुड़कर आर्थिक क्षेत्र में काम करने वाले संगठन स्वदेशी जागरण मंच ने स्वदेशी और स्वावलंबी भारत के समर्थन में इन दिनों डिजिटल हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है। इस अभियान को स्वदेशी स्वावलंबन अभियान नाम दिया गया है। संगठन ने समृद्ध और आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता के लिए कुल पांच सूत्र दिए हैं।

स्वदेशी जागरण मंच ने पांच सुझावों में अपील की है कि लोग सिर्फ स्थानीय और स्वदेशी उत्पाद ही खरीदें। बहुत मजबूरी में ही विदशी सामान खरीदें।

संगठन ने लोगों को उद्यमी और स्वरोजगारी बनने की सलाह दी है ताकि दूसरों को रोजगार देने में सफल हों। इससे हर गांव और जिले को आत्मनिर्भर बनाने की बात कही गई है। तीसरे सुझाव के तौर पर स्वदेशी जागरण मंच ने गौ आधारित जैविक खेती पर बल दिया है। कहा है कि इससे किसानों की कमाई बढ़ेगी। लघु, कुटीर उद्योगों व स्टार्टअप को प्रोत्साहन मिलेगा।

आरएसएस से जुड़े इस संगठन ने भारत के हितों के अनुरूप वैश्विक व्यापार, पूंजी व तकनीक के लेनदेन पर जोर देते हुए कहा है कि तभी भारत वैश्विक ताकत बन सकेगा। पांचवे और आखिरी सुझाव के तौर पर लोगों से जल, जंगल और जमीन और जानवरों की रक्षा करने और योग, स्वच्छता को प्राथमिकता देने की बात कही गई है।

स्वदेशी जागरण मंच ने लोगों से अपील करते हुए कहा है, सब मिलकर भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी स्वावलंबन अभियान का हिस्सा बनें। ताकि समृद्ध और स्वावलंबी भारत बनाया जाए।

— आईएएनएस

 

Source Link: https://www.bhaskarhindi.com/business/news/swadeshi-jagran-manch-gave-5-tips-for-self-supporting-india-141665